• Tue. May 17th, 2022

देखेंगे सच,दिखाएंगे सच

कोरोना के बढ़ते मामलों और ओमिक्रोन के डर के बीच कोविसेल्फ होम टेस्टिंग किट की मांग 4.5 गुना बढ़ी

Nisha Gusain

ByNisha Gusain

Jan 4, 2022

 

उत्तराखण्ड सहित पूरे देश में कोरोनावायरस के ओमिक्रॉन स्वरूपों के संक्रमण के उभरने के बीच, माय लेब द्वारा भारत की पहली स्वयं-परीक्षण करने वाली परीक्षण किट कोवीसेल्फ की मांग में पिछले कुछ हफ्तों में अचानक उछाल आया है। स्वयं-परीक्षण किट ओमिक्रोन सहित कोरोनावायरस के प्रमुख स्वरूपों का पता लगा सकती है। कंपनी ने उत्पादन बढ़ाते हुए पूरे भारत में परीक्षण उपलब्ध कराना शुरू कर दिया है।

 

मायलैब डिस्कवरी सॉल्यूशंस के एमडी और सह-संस्थापक हसमुख रावल ने कहा, “हमने पिछले 11 हफ्तों में कोवीसेल्फ टेस्टिंग किट की मांग में 4.5 गुना वृद्धि देखी है। हमारे पास कोविड परीक्षण किट की अपनी इकाई में 2.4 मिलियन यूनिट की उत्पादन क्षमता है और अगर मांग जारी रहेगी तो हम इसे बढ़ाने के लिए तैयार हैं। उन्होंने कहा कि हम आने वाले महीनों में और वृद्धि की उम्मीद करते हैं।

 

स्थिति को देखते हुए कंपनी ने सभी प्रमुख ऑनलाइन चैनलों के साथ-साथ कंपनी की वेबसाइट पर ऑनलाइन ऑर्डर प्राप्त करने के लिए परीक्षण किट उपलब्ध कराया है। कोवीसेल्फ वर्तमान परीक्षण पद्धति के लिए एक आरामदायक, उपयोग में आसान और सटीक विकल्प प्रदान करता है। इसका उपयोग आईसीएमआर के दिशानिर्देशों के अनुसार लक्षणों वाले या बिना लक्षणों वाले व्यक्तियों और पुष्टि किए गए मामलों में तत्काल संपर्कों द्वारा किया जा सकता है। नाक के मध्य भाग द्वारा स्वाब परीक्षण के रूप में इसे डिज़ाइन किया गया है, यह केवल 15 मिनट में सकारात्मक परिणामों का पता लगा सकता है। प्रत्येक इकाई में एक परीक्षण किट, उपयोग करने के निर्देश (आईएफयू) पत्रक और परीक्षण के बाद सुरक्षित रूप से नष्ट करने के लिए एक बैग होता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *