• Mon. Aug 8th, 2022

देखेंगे सच,दिखाएंगे सच

बाबा रामदेव के बचाव में सामने आये आचार्य बालकृष्ण। सीएमओ ने दिया अल्टीमेटम

Avatar

ByAnushika rai

May 26, 2021

हरिद्वार:- एलोपैथी और आयुर्वेद के विवाद में आचार्य बालकृष्ण योग गुरु बाबा रामदेव के बचाव में सामने आए हैं। आचार्य बालकृष्ण ने योग गुरु को सही ठहराते हुए कहा है कि, कोरोनावायरस अल्ताफ से एलोपैथिक डॉक्टर बौखलाए हुए हैं, इसीलिए वह बौखलाहट में आईएमए आयुर्वेद को लेकर देश में जानबूझकर विवाद खड़ा कर रही है। वही हरिद्वार सीएमओ द्वारा बाबा रामदेव द्वारा दिए गए बयान की निंदा की है और कहा है कि, अगर सरकार द्वारा हमें कोई आदेश दिया जाएगा तो हमारे द्वारा कार्रवाई की जाएगी।

एलोपैथ को लेकर बाबा के बयान का विरोध करने पर आचार्य बालकृष्ण ने सफाई देते हुए कहा है कि, बाबा जी ने केवल आए हुए एक मैसेज को पढ़कर सुनाते हुए केवल इतना कहा था कि, एलोपैथी से खुद डॉक्टरों को भी पीड़ा हो रही है और इस पर बाबा जी ने भी पीड़ा व्यक्त की थी, उनके इस बयान पर इस तरह से बवाल खड़ा कर देना ठीक नहीं है। आचार्य बालकृष्ण ने कहा है कि, एलोपैथी के डॉक्टरों का आयुर्वेद का उपहास उड़ाना ठीक नहीं है और हमारे पास चिकित्सा के लिए कई बड़े डॉक्टर भी आते हैं और हम भी गंभीर मामलों में लोगों को एलोपैथिक डॉक्टरों के पास भेजते हैं।

उधर हरिद्वार के मुख्य स्वास्थ्य अधिकारी ने भी बाबा रामदेव के उस बयान को गलत बताते हुए उनके खिलाफ कार्रवाई किए जाने की बात कही है जिसमें बाबा ने कहा था कि, वैक्सीन की दोनों डोज लेने के बाद भी कई डॉक्टरों की मौत हो गई। मुख्य स्वास्थ्य अधिकारी शंभूनाथ झा का कहना है कि, बाबा रामदेव द्वारा जो दावा किया गया है, यह बिल्कुल ही गलत है। करोना कि वैक्सीन लगाने से मौत नहीं हो रही है।

भारत सरकार भी इस मामले को देख रही है और जरूरत पड़ी तो हमारे द्वारा भी नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी। इनका कहना है कि, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा भी बाबा रामदेव को उनके विवादित बयानों को लेकर नोटिस दिया गया है। और बाबा रामदेव द्वारा भी अपना जवाब दिया गया है सीएमओ शंभू नाथ झा ने इस तरह के बयान देने वाले को सिरफिरा तक बता डाला और कहा कि, ऐसे बयान देकर लोगों को भ्रमित किया जा रहा है, ऐसे लोगों पर कार्रवाई भी होनी चाहिए।

बता दे कि, बाबा रामदेव द्वारा दिए गए बयान पर जहां उनके सहयोगी आचार्य बालकृष्ण खुलकर बाबा रामदेव के समर्थन में सामने आए हैं, तो वहीं हरिद्वार मुख्य स्वास्थ्य अधिकारी द्वारा बाबा रामदेव के बयान को गलत बताया गया है और कहा गया है कि, अगर सरकार द्वारा उन्हें कोई आदेश दिया जाएगा, हरिद्वार स्वास्थ्य विभाग बाबा रामदेव के खिलाफ कार्रवाई करेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *