• Mon. Jul 4th, 2022

देखेंगे सच,दिखाएंगे सच

टिहरी: कोविड सेंटर में बड़ी लापरवाही..9 मरीजों की मौत, उठी सख्त जांच की मांग…

Avatar

ByAman rawat

May 10, 2021

नरेंद्रनगर के कोविड सेंटर में बदइंतजामी को लेकर पहले भी कई वीडियो सोशल मीडिया में वायरल हुए हैं, अगर इन पर गंभीरता से संज्ञान लिया जाता तो शायद 9 मरीजों की जान बच जाती।

 

पहाड़ में कोरोना संक्रमण जानलेवा रूप लेता जा रहा है, तो वहीं स्वास्थ्य विभाग की लापरवाही के चलते कोढ़ में खाज जैसे हालात बने हुए हैं। मामला नई टिहरी का है। यहां नरेंद्रनगर श्रीदेव सुमन राजकीय संयुक्त चिकित्सालय के कोविड केयर सेंटर में बीते 24 घंटे के भीतर 9 कोरोना मरीजों की मौत हो गई। मृतकों के घर में कोहराम मचा है, तो वहीं मरने वालों के परिजन अपनों की मौत के लिए कोरोना से ज्यादा अस्पताल प्रशासन को जिम्मेदार ठहरा रहे हैं। बीते दिन यहां चंबा ब्लॉक के काणाताल निवासी मुकेश डबराल (36), आदर्श ग्राम ऋषिकेश निवासी रामजी शास्त्री (65), नई टिहरी निवासी मधु नेगी (55), चंबा चोपडियाली गांव निवासी शशि देवी (50), बौराड़ी सेक्टर 325 निवासी शैला देवी (60), नवाकोट जाखणीधार निवासी सुशील रतूड़ी (57), कमांद के तिखाड़ गांव निवासी महावीर सिंह (58), अंजनीसैण निवासी सावित्री देवी (47) और नवागांव कंडीसौड़ निवासी गजेंद्र सिंह (38) की मौत हो गई।

अस्पताल में एक ही दिन में 9 मरीजों की मौत होना बताता है कि कहीं न कहीं लापरवाही तो जरूर हुई है और इसकी जांच भी होनी चाहिए। वहीं मृतकों के परिजनों का कहना है कि नरेंद्रनगर के कोविड सेंटर में लापरवाही का आलम आम है। कर्मचारी और अधिकारी मरीजों की तरफ ध्यान नहीं देते। उन्हें अपने हाल पर छोड़ दिया गया है। सही इलाज न मिलने से यहां 24 घंटों के भीतर 9 मरीजों की मौत हो गई। अस्पताल में भर्ती मरीजों ने कई वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर भी डाले थे, इन वीडियोज में अस्पताल की अव्यवस्था और बदइंतजामी देखने को मिली थी, इसके बावजूद टिहरी जिले की सीएमओ ने मामले में संज्ञान नहीं लिया। परिजनों का कहना है कि मरीजों की मौत के लिए कोरोना से ज्यादा अस्पताल की लापरवाही जिम्मेदार है। उन्होंने प्रशासन से मामले की जांच कराने के साथ दोषियों के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *